• Fri. Sep 24th, 2021

GETREALKHABAR

E News/educational stories, poem and life style/only clean content

पचास के बाद की पछवा हवा भाग -18

Byuser

Apr 2, 2021

अभी तक आपने पढ़ा कि श्याम की सलाह पर पुर्वी  और माधवी भी राम और हरी की तरह नौकरी करें इस पर सभी की सहमति हो जाती है  -अब इससे आगे

दूसरे दिन पुर्वी और माधवी  अन्य दिन की अपेक्षा सुबह को जल्दी से घर का काम निवटा कर श्याम और रमा का दोपहर का खाना तैयार कर देती हैं और राम,हरी का लंच पैक करके राम और हरी के साथ ही नौकरी की तलाश में घर से बाहर आ जाती हैं |

रामऔर हरी पुर्वी और माधवी को बैस्ट ऑफ लक कहकर अपनी फैक्ट्री चले जाते हैं इधर दोनों बहनें अपना अपना  रिजऊम तैयार कर एक विदेशी कंपनी के दफ्तर पहुँच जाती हैं |

एक कहावत है कि जब परिवार के प्रतिएक सदस्य की मति यानि की बुद्धि ठीक हो तो सभी काम ठीक होने शुरू हो जाते हैं   |ऐसा ही कुछ आज पुर्वी और माधवी के साथ हुआ जिस कंपनी में वो नौकरी के लिए गईं थीं वहाँ दो जगह अर्जेंट भरी जाने का notice चस्पा रखा था |इसमें एक रिसेपसनिस्ट और एक पर्सनल सैकेटरी की पोस्ट खाली थीं |

पुर्वी और माधवी दोनों का बयोडेटा पीऑन  कंपनी के जनरल मेनेजर के ऑफिस में रखकर आ जाता है और पुर्वी माधवी से इंतजार करने को कहता है |    दोनों बहनें बाहर एक बेंच पर इंतजार करती हैं थोड़ी देर बाद ही अंदर ऑफिस से घंटी बजने की आबाज आती है पीऑन तेजी से ऑफिस के अंदर जाता है और लौटकर पूछता है कि तुम दोनों में से पुर्वी कौन है ?? अंदर जाओ |

पुर्वी अपने को सभालते हुए अंदर दाखिल होती है ,जैसे ही उसकी निगाह सामने चेयर पर बैठे युवक पर जाती है वह चोंक जाती बह कोई और नहीं बल्कि उसके कॉलेज का सहपाठी रवि है लेकिन  इस समय वह कोई दोस्त नहीं वल्की उसे नौकरी देने वाला एक ऑफिसर है कोई और समय/जगह होती तो शायद उनके मिलने का अंदाज अलग होता |अभी वह ये सोच ही रही थी की रवि ने उसे टोकते हुए कहा प्लीज बैठिए |

पुर्वी कुछ सकुचाती हुई सामने पड़ी चेयर  पर बैठ जाती है |रवि पुर्वी को कहता है बैसे तो मुझे तुम्हारी काबलियत पर कोई संदेह नहीं ,आप हमेशा  ही कॉलेज की टौपर रही हैं मैं आपसे एक ही सवाल करूंगा कि आपकी सेलरी क्या हो अब तक पुर्वी भी संभल चुकी थी उसने कहा जनाब जो चाहें फिक्स कर दें हमें मंजूर होगा |आपका एक केनडीडेट बाहर इंतजार कर रहा है और जनाब की जानकारी के लिए बता दें वह मेरी  छोटी बहन माधवी है |

माधवी का इंटरव्यू  एक ऑपचरिकता मात्र थी इंटरव्यू के बाद दोनों को जॉइनिंग लेटर मिल जाता है दोनों खुशी खुशी घर बापिस आ जाते हैं ( इससे आगे की कहानी अगले भाग में )

Leave a Reply