• Fri. Sep 24th, 2021

GETREALKHABAR

E News/educational stories, poem and life style/only clean content

महावीर जयंती विशेष

Byuser

Apr 25, 2021

महावीर जयंती, जैन धर्म का एक शुभ पर्व है। महावीर जी को जैन धर्म के 24 वें तीर्थंकर के रूप में जाना  जाता है। दुनिया भर के जैन समुदाय के लोग इस दिन को बड़े ही धूमधाम से मनाते हैं। धार्मिक छंदों को पढ़ते हैं और जरूरतमंद लोगों को सामान दान करते हैं। भगवान महावीर जैन धर्म के अंतिम आध्यात्मिक नेता थे। ग्रेगोरियन कैलेंडर के अनुसार, महावीर जयंती मार्च या अप्रैल के महीने में मनाई जाती है।

इस वर्ष आज के दिन यह शुभ दिन मनाया जा रहा है। आइए जानते हैं कैसे मनाया जाता है यह दिन –

भगवान महावीर का जन्म 6वीं शताब्दी ईसा पूर्व बिहार में कुंडलग्राम में हुआ था। भगवान महावीर जनम से क्षत्रिय थे ,उनका बचपन का नाम वर्धमान उनकी  माता  रानी त्रिशला और पिता राजा सिद्धार्थ थे । इन्होंने चैत्र मास के 13वें दिन जन्म लिया था। इस दिन आधा चंद्रमा निकला था। भगवान महावीर को ध्यान में और जैन धर्म में बहुत रुचि थी। 30 वर्ष की आयु में उन्होंने आध्यात्मिक मार्ग अपना लिया और जैन धर्म का अभ्यास करने के लिए अपना महल त्याग दिया |

इन्होंने कठिन तपस्या की क्षत्रिय होने के कारण वे बहुत वीर भी थे तपस्या के दौरान इन पर कई जंगली जानवरों ने हमले किये इन्होंने अपनी वीरता और धैर्य से सबको परास्त कर अपनी इंद्रियों पर विजय प्राप्त की तभी से इनको महावीर के नाम से जाने लगा |

इस दिन जैन समुदाय के लोग भगवान महावीर की मूर्ति के साथ जगह जगह जुलूस निकालते हैं लेकिन इस बार कोरोना संकट के कारण इसे मनाने का ढंग कुछ अलग होगा |

 

 

Leave a Reply