• Fri. Oct 22nd, 2021

GETREALKHABAR

E News/educational stories, poem and life style/only clean content

कोरोना महामारी, तुष्टिकरण भारी

Byuser

Jul 19, 2021

देश में जहाँ तीसरी लहर के नाम पर लोगों को साबधान रहने के लिए आगाह किया जा रहा है वंही केरल सरकार ने बकरी ईद पर lockdown में ढील देने की घोषणा कर कोरोना महामारी के एलर्ट को नजरअंदाज कर तुष्टिकरण की हर सीमा को लांघने का काम किया है | इस फैसले पर IMA भी अचंभित है उसने कहा है कि यदि केरल सरकार ने अपना फैसला नहीं बदला तो वह इसके खिलाफ अदालत जाएंगे | केरल में पिछले २४ घंटे में 13956 कोरोना केस दर्ज किये गए हैं|
केरल सरकार ने अपने फैसले से दुखी किया
IMA ने अपना बयान जारी कर कहा है कि केरल जैसे एजुकेटिड प्रदेश में केरल सरकार का यह फैसला बहुत दुखी करने वाला है जब मरीजों की संख्या निरंतर बढ़ रही हो तब ऐसा फैसला आना दुर्भाग्यपूर्ण है | उत्तर प्रदेश , दिल्ली उत्तराखंड जैसे प्रदेशों ने मशहूर कावड़ यात्रा को रद्द किया है और महामारी से लड़ने की अपनी प्रतिबद्धता को मजबूत किया है
ईद के तीन दिन पहले से छूट
केरल के मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने शनिवार को बकरी ईद पर राज्य में लगे लॉक डाउन के प्रतिवन्धों में रबिवार से बुधवार तक छूट देने का ऐलान किया था | इसके लिए उन्होंने सभी दुकानों यहाँ तक कि फिल्मों की सूटिंग तक में रियायत देने की घोषणा कर महामारी को फैलने के लिए निमंत्रण देने का काम किया है |
IMA की प्रेस बिज्ञप्ति
कोरोना के प्रति आगाह करते हुए IMA की प्रेस बिज्ञप्ति जारी की और कहा बकरीद के धार्मिक आयोजन पर केरल सर्कार ने जो छूट दी है उससे महामारी का खतरा और बढ़ेगा |

Leave a Reply