• Fri. Sep 24th, 2021

GETREALKHABAR

E News/educational stories, poem and life style/only clean content

कोरोना डी वैरिएंट डी प्लस में हुआ तव्दील

Byuser

Jun 14, 2021

कोरोना वायरस से लड़ रही दूनियां को अब इसके नए वेरिएंट का सामना करना पड़ रहा है। कोरोना वायरस लगातार अपने आप को बदल रहा है। एक अध्ययन में कहा गया है कि कोरोना का डेल्टा वेरिएंट म्यूटेट कर डेल्टा प्लस में बदल गया है, जो मौजूदा वैरिएंट से अधिक घातक साबित हो सकता है। वैज्ञानिकों का मानना है कि कोरोना संक्रमण के इलाज के लिए मरीजों को दी जा रही मोनोक्लोनल एंटीबॉडीज कॉकटेल को यह वेरिएंट मात दे सकता है।

बता दें कि वायरस से संक्रमित होने या उसके खिलाफ टीकाकरण के बाद जो एंटीबॉडी बनती है, वो वायरस से लड़ने में बहुत प्रभावी होती है। एक वायरस आमतौर पर एक सेल में प्रवेश करके खुद की संख्या को बढ़ाता है और समय आने पर नई कोशिकाओं को अपना शिकार बनाता है। हमारे शरीर में मौजूद एंटीबॉडी वायरस से चिपक जाती है और अन्य कोशिकाओं तक पहुंच को खत्म कर देती है।
कोविड-19 के डेल्टा वेरिएंट के मामलों की रफ्तार को देखते हुए ब्रिटेन 21 जून को समाप्त होने वाली लॉकडाउन की तमाम पाबंदियों को और चार सप्ताह तक जारी रखने पर विचार कर रहा है। वहीं पब्लिक हेल्थ इंग्लैंड (पीएमई) के अनुसार, डेल्टा वेरिएंट से संक्रमित होने वालों की संख्या में पिछले एक सप्ताह में करीब 30,000 का इजाफा हुआ है और यह 42,323 पहुंच गयी है।

Leave a Reply