• Fri. Sep 24th, 2021

GETREALKHABAR

E News/educational stories, poem and life style/only clean content

आईपीएस राकेश अस्थाना की नियुक्ति के खिलाफ दिल्ली विधानसभा ने किया प्रस्ताव पास

Byuser

Jul 29, 2021

दिल्ली पुलिस के कमिश्नर पद पर आईपीएस राकेश अस्थाना की नियुक्ति के खिलाफ दिल्ली विधानसभा ने प्रस्ताव पास करके गृह मंत्रालय से अस्थाना की नियुक्ति वापस लेने की मांग की गई है| दिल्ली के गृह मंत्री और आप नेता सत्येंद्र जैन ने विधानसभा में कहा कि BJP कहना चाहती है कि मोदी सरकार ने अभी तक जितने भी कमिश्नर लगाए बो सब नाकारा, निकम्मे थे और 7 साल में पहली बार अच्छा ऑफिसर लाया गया है|
उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट का फैसला है कि डीजी लेवल की नियुक्ति में 6 महीने का कार्यकाल बचा होना चाहिए, राकेश अस्थाना का 4 दिन का कार्यकाल बचा था | राकेश अस्थाना की नियुक्ति को खारिज करने को लेकर विधायक संजीव झा ने दिल्ली विधानसभा में प्रस्ताव पेश किया था |
बुराड़ी से विधायक संजीव झा ने कहा कि आज गुजरात कैडर के व्यक्ति को देश की राजधानी की पुलिस का हेड बनाया जा रहा है | इनको दिल्ली में हो रहे अपराध की चिंता नहीं है , अगर होती तो AGMUT कैडर से नियुक्ति की जाती | क्या इस कैडर में सक्षम ऑफिसर नहीं है?
इस प्रस्ताव पर चर्चा के दौरान बीजेपी के विधायकों ने जमकर हंगामा किया. इसके बाद BJP विधायक ओपी शर्मा को पूरे दिन के लिए सदन से निष्कासित कर दिया गया |
भारतीय पुलिस सेवा (आईपीएस) के गुजरात कैडर के वरिष्ठ अधिकारी राकेश अस्थाना ने बुधवार को दिल्ली के पुलिस आयुक्त का पदभार संभाला था | इससे एक दिन पहले मंगलवार को गृह मंत्रालय ने आदेश जारी कर कहा था कि अस्थाना तत्काल प्रभाव से दिल्ली पुलिस आयुक्त का कार्यभार संभालेंगे |
अस्थाना की नियुक्ति 31 जुलाई को उनकी सेवानिवृत्ति से कुछ दिन पहले की गई , उनका कार्यकाल एक साल का होगा | उन्नीस सौ चौरासी बैच के आईपीएस अधिकारी अस्थाना पहले केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) में विशेष निदेशक रह चुके हैं | सीबीआई में अपने कार्यकाल के दौरान उनका जांच एजेंसी के तत्कालीन निदेशक आलोक वर्मा के साथ विवाद हो गया था जिसमें दोनों ने एक-दूसरे पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाए थे |


Leave a Reply