• Fri. Sep 24th, 2021

GETREALKHABAR

E News/educational stories, poem and life style/only clean content

कोरोना संकट में अमेरिका भारत के साथ

भारत में कोरोना की विकराल स्थिति के बीच अमेरिका वैक्‍सीन के लिए कच्‍चा माल देने पर राजी हो गया है। खास बात यह है कि अमेरिका ने भारत में बन रही वैक्‍सीन के लिए कच्‍चे माल की आपूर्ति पर उस वक्‍त रोक लगा दी, जब देश में कोरोना महामारी विकराल रूप धारण कर रही  है। अमेरिकी प्रशासन के इस कदम से वैक्‍सीन बनाने वाली भारतीय कपंनियों और भारत सरकार की चिंताएं बढ़ा दी थी। अमेरिका के इस फैसले से भारत सरकार और वैक्‍सीन कंपनियों ने राहत की सांस ली। उधर, अमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन ने कहा कि महामारी द्वारा पैदा हुई विकराल स्थिति में अमेरिका पूरी तरह से भारत के साथ खड़ा हैं। उन्‍होंने कहा कि हम भारतीय सरकार के साथ मिल कर कार्य कर रहे हैं और भारत के हेल्थ वर्कर को हरसंभव जरूरी समान उपलब्ध कराएंगे |

भारत की तरफ से कोरोना वैक्सीन निर्माण के लिए आवश्यक कच्चे माल की आपूर्ति पर लगी रोक हटाने के कई बार आग्रह के बाद अब अमेरिका राजी हो गया है। विदेश मंत्री ब्लिंकन ने ट्विटर के जरिये यह जानकारी देते हुए लिखा है कि कोविड-19 के भयानक प्रकोप की स्थिति में हम भारत की जनता के साथ हैं। हम भारत सरकार में अपने साझेदारों के संपर्क में हैं। हम जल्द ही भारत की जनता और कोविड से लड़ने वाले लोगों के समर्थन में अतिरिक्त मदद भेजेंगे। अमेरिका के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार जैक सुलिवान ने भी कहा है कि कोरोना महामारी को लेकर हमारी गंभीर चिंता है। हम रात-दिन अपने भारतीय मित्रों को ज्यादा मदद और आपूर्ति देने पर काम कर रहे हैं। हम भारत की इस लड़ाई में साझेदार हैं।

Leave a Reply