• Fri. Sep 24th, 2021

GETREALKHABAR

E News/educational stories, poem and life style/only clean content

आकाश में कुत्ते भौंक रहे थे

Byuser

Jul 10, 2021

एक गांव में एक चौधरी साहब के दो बेटे थे | एक बेटा तो गांव का सरपंच था दूसरा पशुओं  की देखभाल करता और जंगल में भी चराने जाता था | कई दिन के बाद पशु  चराने बाले को ख्याल आया कि मेरा भाई तो दिन भर पंचायत में बैठा बात बनाता रहता है और मुझे पशुओं  की देखभाल में सारे दिन परेशान होना पड़ता है | कल से मैं भाई को पशुओं  की देखभाल में लगाऊंगा और खुद पंचायत में बैठूंगा | दूसरे दिन उसने अपने भाई से कहा भाई आज से मैं  पंचायत सभालूँगा और तुम पशु  चराने जाना | भाई ने सहर्ष ही बात मान ली और पशुओं  को लेकर जंगल में चला गया | वो स्वयं पंचायत में जाकर बैठ  गया जब सभी लोग बैठ गए तो उसे सूझ ही नहीं रहा  था कि वह क्या बोले इसलिए उसने उल जलूल बातें कहनी शुरू कर दीं | पहले तो उसने बोला कि आकाश में कुत्ते भौंक रहे थे | दूसरी बात उसने बताई कि एक आदमी दरांती से घास काट रहा था और उसकी नाक काट गई | इस पर सभी ने ऐतराज जताया कि इस तरह की बात होना संभव ही नहीं है तो उसने कहा ऐसा ही हुआ है | कल बताऊंगा उससे पहले तुम सोच कर बताओ कि ये कैसे हुआ होगा | शाम तक लोग सोचते रहे लेकिन उनकी समझ में कुछ भी नहीं आया | सभी अपने -अपने घर चले गए तो वह भी अपने घर आ गया | आज पहले दिन ही उसे पंचायत से वोर होने लगी थी इसलिए उसने भाई से कहा भाई कल से में पंचायत नहीं जाऊँगा ,मेरे लिए तो पशुओं को  चराने का ही काम ठीक है |

दूसरे दिन जब उसका भाई पंचायत में पंहुचा तो सबने कल वाली  बात कहते हुए कहा कि पंचायत में तुम्हारे भाई ने कहा की आसमान में कुत्ते भौंक  रहे थे | दूसरी बात कही कि एक आदमी घास काट रहा था और उसकी नाक कट गई | सभी ने एक स्वर में कहा हम दोनों ही बात देर रात तक सोचते रहे लेकिन किसी भी बात में सच्चाई नजर नहीं आई अब तुम ही बताओ ये बात किस तरह से सच है  |

उसने सोचा भाई एक दिन आकर ही बहुत गड़बड़झाला कर गया है लेकिन बात तो संभालनी ही पड़ेगी नहीं तो गांव में भाई की बात का कोई भरोशा नहीं करेगा | उसने कहा जो  बात भाई ने आप सभी को बताई हैं वो बिलकुल खरी हैं मैं बताता हूँ कैसे पहली बात आकाश में कुत्ते भोक रहे थे तो हुआ ऐसा कि  एक जानबर के पिंजर में कुछ पिल्लै  घुसे हुए ,उसका मांस नौंच रहे थे तभी एक गिद्ध आया और उस पिंजर को ले उड़ा इसलिए उस पिंजर से आकाश से कुत्ते भोंकने की आबाज आ रही थी | दूसरी बात एक आदमी घास काट रहा था और उसकी नाक कट गई ,ये भी सही है दरअसल हुआ यूं कि एक आदमी खड़े होकर पहाड़ी की घास काट रहा था और उसकी दरांती घास से फिसलकर उसकी नाक में आ लगी और उसकी नाक काट गई | सभी ने उसकी बात को सच मान लिया |

कहानी से शिक्षा :- जो जिस काम में पारंगत है उसे वही काम करना चाहिए | दूसरे का काम आसान दीखता है मगर होता नहीं है |

Leave a Reply