• Fri. Oct 22nd, 2021

GETREALKHABAR

E News/educational stories, poem and life style/only clean content

Month: March 2021

  • Home
  • पचास के बाद की पछवा हवा भाग -17

पचास के बाद की पछवा हवा भाग -17

अब तक आपने पढ़ा पुर्वी पिछले 6 महीने की सभी बातें रमा से कह देती है |रमा और  श्याम पुर्वी की सारी बात सुनकर कहते है कि सब ठीक हो…

पचास के बाद की पछवा हवा भाग -16

अभी तक आपने पढ़ा जब रमा सेठ से पैसे लेने के लिए राम को कहती है तो राम उसे झिड़क देता है और दोनों भाई अपने माता पिता का आशीर्वाद…

पचास के बाद की पछवा हवा भाग -15

श्याम अपनी पत्नी रमा के साथ जैसे ही घर के दरबाजे पर पहुंचते हैं |राम की नजर दोनों के ऊपर पड़ती है ,राम आज   गेट  की तरफ ऐसे दौड़ कर…

यादों में होली

गैट रियलखबर की तरफ से सभी को होली की शुभकामनाएं | जी हाँ होली के उन दिनों को यादों में ही ताजा किया जा सकता है | आज से तकरीबन…

पचास के बाद की पछवा हवा भाग -14

अब तक आपने पढ़ा श्याम और रमा दोनों केहर सिंह के गाँव से अपने गाँव में प्रवेश करते हैँ | अब आगे – रमा के टोकने पर श्याम की तंद्रा…

कहानी चार सार की ,का अंतिम भाग

अभी तक आपने पढ़ा राजा अंतिम दोनों सार पढ़ और समझ लेता है -अब इससे आगे – सुभह होते ही राजा,रानी,और मंत्रीगण गंगा किनारे चल देते हैं | राजा वहाँ…

कहानी चार सार की भाग -3

अभी तक आपने पढ़ा ,राजा को डसने आया सर्प राजा के स्वागत से खुश होकर ,बिना डसे बापिस लौट जाता है | अब आगे – ये सारी घटना देखकर सभी…

पचास के बाद की पछवा हवा भाग -13

अभी तक आपने पढ़ा की राम और हरी की नौकरी लग चुकी है |दोनों महाजन से बार-बार  कर्जा ले रहे है |पुर्वी और माधवी के खर्च करने के ढंग अभी…

कहानी चार सार की भाग -2

अब तक आपने पढ़ा कि राजा भेष बदलकर रात को घूमने जाता है| एक बुढ़िया द्वारा पता चलता है की वह कल मरने वाला है |इससे आगे – राजा अपने…

कहानी चार सार की

दोस्तों ये कहानी एक लोक कहानी है जो शायद आपने ,अपने घर के किसी बुजुर्ग से सुनी भी हो हालाँकि इस तरह की कहानीयां जहां पहले मनोरंजन का साधन हुआ…